NCERT solutions Class 11th Rajni

Top afd

NCERT solutions Class 11th Rajni

NCERT solutions Class 11th: पाठ -17 रजनी आरोह भाग -1


NCERT solutions Class 11th: पाठ -17 रजनी आरोह भाग -1


NCERT solutions Class 11th Rajni : दोस्तों आज की इस पोस्ट में हम आपको कक्षा ग्यारहवीं के लिए आरोह 1 पाठ - रजनी के महत्वपूर्ण प्रश्न बताने वाले हैं ।साथ में आपको रजनी  के सभी प्रश्न हल किए गए हैं ।



 रजनी ( मन्नू भंडारी )


पाठ के साथ


प्रश्न 1.रजनी ने अमृत के मुद्दे को गंभीरता से लें क्योंकि -

(क) वह अमित से बहुत स्नेह करती थी |

(ख)अमित उसकी मित्र लीला का बेटा था ।

(ग)अन्याय के विरुद्ध आवाज उठाने की सामर्थ्य रखती थी।

(घ)उसे अखबार की सुर्खियों में आने का शौक था ।


उत्तर - (ग) वह अन्याय के विरुद्ध आवाज उठाने की सामर्थ्य रखती थी।


प्रश्न 2 .जब किसी का बच्चा कमजोर होता हैं ,तभी उसके मां-बाप ट्यूशन लगवा देते हैं। अगर लगे कि कोई टीचर लूट रहा है तो उस टीचर से न ले ट्यूशन किसी और के पास चले जाएँ …..यह कोई मजबूरी तो है नहीं -प्रसंग का उल्लेख करते हुए बताइए कि यह संवाद आपको किस सीमा तक सही या गलत लगता है तर्क दीजिए


उत्तर - प्रसंग - कहानी की नायिका रजनी जबरदस्ती ट्यूशन पढ़ने की समस्या को लेकर पहले स्कूल के हेड मास्टर के पास जाती हैं । वे इसे अध्यापकों और बच्चे की समस्या कहकर टाल जाते हैं। फिर वह शिक्षा निर्देशक से मिलने जाती है शिक्षा - निर्देशक रजनी को यह तर्क देता है कि ट्यूशन करने में कोई मजबूरी तो है नहीं यदि बच्चे को लगता है कि कोई अध्यापक उससे लूट रहा है तो वह किसी और अध्यापक के पास चला जाए ।

टिप्पणी - शिक्षा निदेशक का यह संवाद बिल्कुल लचर और गलत है। उसे जबरदस्ती ट्यूशन पढ़ाने में कोई गंभीरता नहीं नजर आती। वह समस्या की गहराई में गए बिना बात कह देता है।ऐसा लगता है कि वह समस्या को समझने की बजाय वला टालने मे रुचि लेता है।


प्रश्न 3. तो एक और आंदोलन का मसला मिल गया  - फुसफुसाकर कहीं गई है बात -

(क) किसने किस प्रसंग में कहीं ?

(ख) इससे कहने वाले की किस मानसिकता का पता चलता है।


उत्तर - (क) यह बात रजनी के पति रवि ने पेरेंट्स की मीटिंग के दौरान रजनी का भाषण सुनते हुए कही । रजनी ने अपने भाषण के दौरान बताया कि कुछ अध्यापकों को अधिक तनख्वाह पर हस्ताक्षर करा कर कम तनख्वाह दी जाती है। इस सिलसिले में रजनी ने उन्हें कहा कि वे संगठित होकर आंदोलन करें और इस अन्याय का पर्दाफाश करें ।




(ख) इससे कहने वाले की बचाऊ मानसिकता का पता चलता है। वह अपने काम से काम रखना चाहता है। समाज की समस्याओं में अपनी गर्दन नहीं फँसाना चाहता।


प्रश्न 4. रजनी धारावाहिक की इस कड़ी की मुख्य समस्या क्या है? क्या होता अगर -

(क) अमित का पर्चा सचमुच खराब होता।

(ख) संपादक रजनी का साथ न देता।


उत्तर - इस कड़ी की मुख्य समस्या है स्कूली अध्यापकों द्वारा बच्चों को जबरदस्ती ट्यूशन पढ़ने के लिए विवश करने के विरुद्ध जन-जागरण करना। 

(क) यदि अमित का पर्चा सचमुच खराब होता तो रजनी को अपनी भूल का ज्ञान हो जाता। वह आंदोलन न करती।

 (ख) यदि संपादक रजनी का साथ न देता तो यह आंदोलन इतना सफल न हो पाता। हो इतनी जल्दी बोर्ड के अधिकारी ट्यूशन संबंधी नियम बनाते।


पाठ के आस-पास


प्रश्न 1.गलती करने वाला तो है ही गुनहगार, पर उसे बर्दाश्त करने वाला भी कम होने का नहीं होता - इस संवाद के संदर्भ में आप सबसे ज्यादा किसे और क्यों गुनहगार मानते हैं?


उत्तर - मेरी दृष्टि में दोषी दोनों है -ट्यूशन के लिए जबरदस्ती करने वाला अध्यापक भी और उस जबरदस्ती को सहन करने वाला व्यक्ति भी जबरदस्ती सहन करने वाला व्यक्ति कुछ अधिक दोषी है क्योंकि वह अन्याय का विरोध करने की शक्ति नहीं जुटा पाता । वह अन्यायी को अन्याय करने की छूट देता है इससे अन्यायी का साहस बढ़ता है 



प्रश्न . 2 स्त्री के चरित्र की बनी बनाई धारणा से रजनी का चेहरा किन मायनों में अलग है ?


उत्तर - रजनी का चेहरा स्त्री के चरित्र की धारणा से बिल्कुल भिन्न है । भारतीय स्त्री शक्तिहीन , सहनशील , और कोमल मानी जाती है वह संघर्षों से दूर रहना चाहती है इस नाटक की नायिका रजनी संघर्षशील सहनशील जुझारू और शक्तिमती है वह अपने सामने होता हुआ अन्याय नहीं देख सकती । वह तुरंत दोषी व्यक्ति के विरुद्ध संघर्ष छेड़ देती है और देखते - ही - देखते जन -आंदोलन खड़ा कर देती है


प्रश्न 3. पाठ के अंत में मीटिंग के स्थान का का विवरण कोष्ठक में दिया गया है। यदि इसी दृश्य को फिल्माया जाए तो आप कौन-कौन से निर्देश देंगे?


उत्तर - यदि इसी दृश्य को फिल्माया जाए, तो निम्नलिखित निर्देश देंगे:

• मीटिंग के अनुरूप तैयार किया गया मंच तथा बैनर |

• लोगों का उत्साह में आना |

• रजनी का मंच पर भाषण देना।


प्रश्न 4. इस पटकथा में दृश्य-संख्या का उल्लेख नहीं है। मगर गिनती करें तो सात दृश्य हैं। आप किस आधार पर इस दृश्यों को अलग करेंगे?


उत्तर - पटकथा में दृश्यों को संख्या के आधार पर अलग अलग नहीं दर्शाया गया है। हम स्थान के आधार पर दृश्यों को अलग कर सकते हैं।



भाषा की बात -


प्रश्न 1. निम्नलिखित वाक्यों के रेखांकित अंश में जो अर्थ निहित हैं उन्हें स्पष्ट करते हुए लिखिए -

(क) वरना तुम तो मुझे काट ही देतों ।

(ख) अमित जब तक तुम्हारे भोग नहीं लगा लेता ' , हम लोग खा थोडे ही सकते हैं |

(ग) बस बस, में समझ गया।


उत्तर - (क)काट देना छोड़ देना या भूल जाना ।

स्पष्टीकरण - रजनी कहती है यदि वह लीला के घर आती तो वह उसे मिठाई खिलाने की बात भूल जाती ।


(ख) भोग लगाना - खिला लेना ।

स्पष्टीकरण - अमित जब तक रजनी को नहीं खिला लेता , तब तक वह किसी और को खान नहीं देता ।

थोड़े ही. - नही ।

स्पष्टीकरण -रजनी की खिलाए विना लीला और अन्य लोग खा नहीं सकते।


(ग ) बस बस अधिक कहने की आवयकता नहीं।

स्पष्टीकरण - संपादक कहता है कि मुझे और अधिक कहने का आवश्यकता नही है मैं सारी बात समझ गया हूँ ।








10 Post a Comment

और नया पुराने